©इस ब्लॉग की किसी भी पोस्ट को अथवा उसके अंश को किसी भी रूप मे कहीं भी प्रकाशित करने से पहले अनुमति/सहमति अवश्य प्राप्त कर लें। ©

Friday, 9 February 2018

सेवा ही सच्ची पूजा है

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )






Monday, 5 February 2018

संकल्प

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )

बापू इंसान के दुख - दर्द को कितना समझते थे ,  आज कल कौन किसकी सुनता है ?


Tuesday, 30 January 2018

बत्तख मियां -------- ध्रुव गुप्त

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )



Monday, 29 January 2018

सहम - सहम कर जीना

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )


Friday, 19 January 2018

सोशल मीडिया में महिलाओं की कम भागीदारी क्यों ? ------ गीता यादव

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )
कठिन परिस्थितियों के बावजूद नारी को खुद अपनी राह बनानी होगी  : 






नारी को लोग  कभी देवी -  कभी अबला कह कर पता नहीं क्या - क्या  उपमाएँ तो देते रहते हैं लेकिन वास्तविक अधिकार नहीं। आज भी नारी जंजीरों में ही जकड़ी हुई है - घर, समाज, देश सभी जगहों में। 

कभी - कभी तो लगता है, क्या नारी होना अपमान है ?

Monday, 8 January 2018

जीवन के लिए

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं ) 


Friday, 5 January 2018

विचार, संस्कार के चित्रहार

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )


















Monday, 1 January 2018

नव - वर्ष 2018 मंगलमय हो

स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )